• FAQs
  • My Notes
  • Downloads
  • Notification
  • National Rank List

Media Harish Bajaj on the essence of education

Also Seen on :   
अपने बच्चों को डिजिटल शिक्षा से जोडे़ः बजाज खाजूवाला जिस तरह देश के प्रधानमंत्री इण्डिया को डिजिटल इण्डिया बनाने में लगे हैं, ठीक उसी तरह से अनफोल्डयू भी बच्चों को डिजिटल शिक्षा से जोड़ने में लगा है। हरियाणा के धारूहेड़ा में शिक्षा पर सेमीनार के दौरान चर्चा करते हुए अनफोल्डयू के चेयरमैन हरीश बजाज ने कहा कि हमारा मिशन अधिक से अधिक बच्चों को डिजिटल शिक्षा का ज्ञान देते हुए उन्हे डिजिटल शिक्षा से जोड़ना है। उन्होंने कहा कि हमारी वेबसाईड पर बच्चे चूलाईव टेस्ट देकर अपनी प्रतिभा दिखा सकते हैं। अच्छी प्रतिभा दिखाने वाले बच्चों को उनकी प्रतिभा के अनुसार पुरस्कृत भी किया जायेगा। श्री बजाज ने कहा कि बच्चों को किसी भी तरह की परेशानी से निजात दिलवाने के लिए हमारे डिजिटल पोर्टल पर बच्चे अपनी समस्या को भेजे, बच्चों के सवालों का जवाब देने के लिए हमारे अघ्यापक तैयार रहते हैं। बच्चों को अभी से डिजिटल शिक्षा का श्रान होगा तो उन्हें उच्च कक्षाओं में किसी भी तरह की परेशानी नहीं होगी। शिक्षा पर विस्तार से जानकारी देते हुए ट्रेनर राजेश जयकंवर ने कहा कि जुनून और उत्साह के साथ सब कुछ संभव है। देश की बदलने की बात करने वाले अगर पहले अपने आप को बदल लें तो देश अपने आप बदल जायेगा। उन्होंने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में डाॅक्टर ए पी जे अब्दुल ने जो काम किया, उसे देश कभी नहीं भूल सकता क्योंकि राजस्थान के पोकरण तहसील में जब परमाणु परीक्षण किया गया था तब से ही अन्य देशों ने भारत को अच्छी तरह समझा। परमाणु परीक्षण से पूर्व हमारे देश के प्रधानमंत्री जब दूसरे देशांे में जाते थे तो उन्हें इन्तजार करवाया जाता था लेकिन जब से भारत की क्षमता अन्य देशों ने देखी, तब से ही भारत का रूतवा बढ़ा। जयकंवर ने कहा कि इन्सान जुनून के साथ ही सब कुछ हासिल कर सकता है। उन्होंने देश के निर्माण में प्रत्येक व्यक्ति का सहयोग जरूरी बताया और कहा कि जब हम सब ईमानदाराी से देशहित में सोचेंगे तो ही हमारा भारत देश डिजिटल बन पायेगा। उन्होंने कहा कि जिस तरह से युद्ध लड़ने के लिए हथियारों की आवश्यकता रहती है ठीक उसी तरह से कुछ पाने के लिए कुछ खोना पड़ता है। और मेहनत की महत्ति आवश्यकता रहती है। अभिभावकों को भी अपनी कमाई का 10 प्रतिशत हिस्सा शिक्षा पर खर्च करना चाहिए।